Optical Sensor Technology क्या है? और कहां इस्तेमाल होता है?

optical sensor technology kya hai

Optical Sensor Technology Kya Hai?- आपने लोगों को बाते करते हुए जरूर सुना होगा कि इस मशीन में sensor लगा है, पर क्या आपको पता है कि sensor kya hota hai?

तो इस आर्टिकल में मै आपको बताऊंगा कि optical sensor technology kya hai? इसका इस्तेमाल कहां होता है? और optical sensor Technology काम कैसे करती है?

हम लोगों के दैनिक जीवन में ऐसे बहुत सारे काम होते हैं जिनमें optical sensor technology का इस्तेमाल होता है, पर हम लोगों को पता नहीं होता है। क्योंकि हमने इसके बारे में कभी सोचा ही नहीं है। 

वैसे देखा जाए तो सेंसर टेक्नोलॉजी का हर क्षेत्रों में इस्तेमाल किया जाता है क्योंकि आज के समय में इस टेक्नोलॉजी के बिना हमारा किसी को पहचान बताना, पर्सनल सुरक्षा इत्यादि अधूरा रह जाता है।

हां ये हो सकता है कि optical sensor technology को अलग-अलग क्षेत्रों में अलग-अलग तरीकों से इस्तेमाल किया जाता है।

आपने कभी अनुभव किया होगा कि जब आप किसी दुकान पर जाते हैं और वहां पर आपको अपना biometric data देना होता है, तो वहां पर आपका fingerprint scan किया जाता है जोकि sensor technology ही वहां काम करती है।

वैसे तो सेंसर कई प्रकार के होते हैं लेकिन यहां पर हम सिर्फ optical sensor technology kya hai? और इसके इस्तेमाल के बारे में बात करेंगे।

इसे भी पढ़े: बिना बिजली के मोबाइल चार्ज कैसे करें?

Optical Sensor Technology kya hai? 

optical sensor technology, ऐसी टेक्नोलॉजी है जो ऑप्टिकल सेंसर प्रकाश कीरणो को electronic signal में परिवर्तित कर देता है।

मतलब ऑप्टिकल सेंसर का उद्देश्य ही यही होता है कि वह प्रकाश की भौतिक मात्रा को मापे और एक ऐसी एकीकृत माप में परिवर्तित करें जो कि पठनीय हो। जो कि यह सेंसर के प्रकार पर निर्भर करता है।

satellite, aadhaar card machine, car, aeroplane इत्यादि जैसे चीजों में optical sensor technology kya hai? का इस्तेमाल किया जाता है।

इसके अलावा इसका इस्तेमाल contact-less, detection, counting जैसी चीजों में भी किया जाता है।

ऑप्टिकल सेंसर आंतरिक या बाहरी दोनों तरफ से प्रयोग में लाए जाते हैं। जो बाहरी sensor होता है उसका काम प्रकाश को संचारित करने के लिए इकट्ठा करना है जबकि आंतरिक sensor का उपयोग दिशा के लिए होता है।
 

या यूं कहे तो optical sensing और optical communication में source of signal के लिए, near infrared region में photo optics technology का इस्तेमाल होता है।

Optical Sensor के प्रकार

ऑप्टिकल सेंसर कई तरह के होते हैं लेकिन real world में जिनका इस्तेमाल किया जाता है, उनको image में दिया गया है। आप देख सकते हैं।

optical sensor technology kya hai

Optical Sensor Technology कैसे काम करती है?

ऑप्टिकल सेंसर टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल अलग-अलग चीजों में अलग-अलग तरीकों से होता है लेकिन यहां पर हम आपको आसानी से समझाने के लिए एक माउस का उदाहरण लेते हैं।

आपने देखा होगा या सुना होगा optical mouse के बारे में जिसमें कोई भी wire नहीं लगा होता है आखिर तब ये काम कैसे करता है? यह काम करता है optical sensor technology के ऊपर।

what is optical sensor in hindi

हम आपको optical sensor technology को optical mouse के जरिए समझाते हैं। यही नियम सभी optical device में काम करता है बस काम करने का तरीका अलग अलग होता है।

जिस भी mouse में कोई wire नहीं लगा होता है, तो आप देखेंगे कि उसमें नीचे की तरफ एक red colour की लाइट जलती है जो ऑप्टिकल सेंसर का काम करती है। अब आपको बताते हैं यह काम कैसे करता है?

जब आप ऑप्टिकल माउस को खोलते हैं तो आपको सबसे पहले बीच में एक light detector chip देखने को मिलेगा जिसे सीमास ic या camera ic बोला जाता है।

और mouse के आगे scroll wheel लगा होता है। पीछे की तरफ एक लाइट लगी होती है जिसे led कहते हैं यही लाइट हमें बाहर से चमकती हुई दिखाई देती है।

इसी ic और LED के बीच में एक lens ( प्लास्टिक का आवरण) लगा होता है जिसे प्रिज्म बोलते हैं। लेकिन यह काम कैसे करता है तो सबसे पहले हम cimous ic को जानते हैं।

सीमास के नीचे एक होल होता है और ऊपर ic लगा होता है, जो होल होता है उसके जस्ट नीचे एक प्रिज्म होता है जिसे लेंस बोल सकते हैं।

यही led से आने वाली प्रकाश किरणों को ic से होते हुए lens पर जाता है जो प्रकाश किरणों को परावर्तीत करने का काम करती है।

जब हम mouse को on करते हैं तो LED भी on हो जाती है और उससे निकलने वाली प्रकाश कीरणे लेंस के जरिए ground surface यानि जमीन पर टकराती है जिससे परिवर्तित होने के बाद sensor ic में प्रवेश करती है

और उसके बाद हमारा sensor, ic में मूवमेंट के कारण सेंसराइज होता है। जिसके हिसाब से हमारा mouse cursor नियंत्रित होता है।

मैंने आपको optical mouse के जरिए optical sensor technology kya hai? what is optical sensor technology in hindi? बताने की कोशिश की।

यही तकनीक प्रत्येक ऑप्टिकल डिवाइस में काम करती है। सिर्फ काम करने का तरीका अलग अलग होता है लेकिन तकनीकी method same होता है।

इसे भी पढ़े: Best Free Screen Recorder Software for Pc, Android and iPhone

Optical Sensor Technology किन चीजों में इस्तेमाल होती है?

अगर इस तकनीकी के इस्तेमाल के बारे में बात करें तो इसकी तकनीकी बहुत ही व्यापक है। अंदाजा लगाना भी मुश्किल है कि इसका इस्तेमाल किन किन चीजों में किया जाता है?

फिर भी हम आपको कुछ उदाहरण के तौर पर बताते हैं जिससे आपको आइडिया हो सके की यह किन चीजों में इस्तेमाल होता है?

Satellite ( उपग्रह)

आपने सैटेलइट को तो नाम सुना ही होगा जो पृथ्वी के बाहर लगे होते हैं जिन्हें हमारे वैज्ञानिक बनाकर आकाश में भेजते रहते हैं।

तो ये सैटेलइट भी पृथ्वी के ऊपर atmosphere मापने के लिए या पृथ्वी का gps मापने के लिए या जीपीएस को देखने के लिए यह चीज optical sensor के जरिए ही जानता है या मापता है।

इसके अतिरिक्त अगर दो सैटेलाइट को कम्युनिकशन करना है तो इनमें optical sensor technology का ही मदद लिया जाता है।

Aeroplane (हवाई जहाज)

कोई हवाई जहाज आकाश में पृथ्वी से कितनी ऊंचाई पर उड़ रहा है या किसी वस्तु से उसकी दूरी क्या है यह सब जानने या मापने के लिए ऑप्टिकल सेंसर टेक्नोलॉजी का मदद लिया जाता है।

इसी से पता चलता है कि हमारा हवाई जहाज पृथ्वी से कितनी ऊंचाई पर है अगर ज्यादा ऊंचाई पर है तो सेंसर सूचित करके pilot को बताएगा और अगर ज्यादा नीचे है तो भी वह सूचित करके बताएगा।

aeroplane में optical sensor technology ka istemaal करने से दुर्घटना से बचा जा सकता है।

दूरबीन

इसके अलावा ऑप्टिकल सेंसर टेक्नोलॉजी बड़े-बड़े दूरबीन में भी इस्तेमाल किया जाता है जिससे पृथ्वी से दूर सितारों, ग्रहों को देखने के लिए या उसकी बारे में कुछ जानने के लिए वैज्ञानिकों को मदद मिलती है।

अगर बात की जाए दो ग्रहों के बीच में दूरी की तो वहां पर भी ऑप्टिकल सेंसर टेक्नोलॉजी का ही इस्तेमाल किया जाता है।

कार

optical sensor technology का एक अच्छा उदाहरण आज के आधुनिक कार भी हैं जिनमें दुर्घटना होने से बचने के लिए किया जाता है।

जैसे अगर कभी कार को हम रिवर्स लेते हैं तो कार के पीछे अगर पेड़ या दीवार आता है तो ऑप्टिकल सेंसर ऑटोमेटिक सूचित कर देता है की कार के करीब कोई वस्तु आ गई है जिससे कार को उस वस्तु से कुछ दूरी पर ही रोक लिया जाता है।

fingerprint scanner

जब आप आधार कार्ड बनवाने जाते है तो आपको अपना fingerprint देना पड़ता है जिसके लिए आपको एक scanner machine पर अपनी अंगुलियों को रखना होता है।

तब आपके मन में ख्याल आता होगा कि आखिर हमारी fingerprint को मशीन कैसे कैच कर लेती है? तो वहां पर भी optical sensor technology का ही इस्तेमाल किया जाता है।

इसके अलावा ऑप्टिकल सेंसर टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल race bike, fighter plane, cctv camera इत्यादि में अलग-अलग तरीकों से किया जाता है लेकिन सब में तकनीकी विधि एक ही होती है।

इसे भी पढ़े: Nano Cell Technology क्या है? LG next level display के फायदे

ऑप्टिकल सेंसर तकनीकी के लाभ

किसी भी चीज को अगर बनाया जाता है तो उसका यही भूमिका होती है कि उसके कुछ लाभ हो। तो ऐसे में ऑप्टिकल सेंसर तकनीकी के क्या क्या लाभ है जान लेते हैं।

अधिक संवेदनशीलता, व्यापक गतिशील रेंज, बिद्युत मार्ग, विद्युत चुंबकीय हस्तक्षेप से मुक्ति, multiplexing capabilities, इत्यादि इनके लाभ हैं। 

optical sensor uses in hindi

चलते-चलते: Optical Sensor Technology Kya hai?

तो हमने इस आर्टिकल में जाना कि optical sensor technology kya hai? कहां इस्तेमाल होता है? कैसे काम करता है? और optical sensor technology ke fayde क्या है?

उम्मीद है कि आपको यह आर्टिकल बेहद पसंद आया होगा और आपको what is optical sensor technology in hindi? के बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी।

बदलती दुनिया की optical sensor technology ने बहुत सारे काम को आसान बना दिया है। इतना आसान बना दिया है कि हम अपने आंखों को पासवर्ड के तौर पर रख सकते हैं।

अगर optical sensor technology kya hai? optical sensor design, optical sensor mouse, optical sensor meaning पसंद आया हो, तो अपने मित्रों के साथ जरूर शेयर करें ताकि उन्हें भी इस तकनीकी के बारे में पता हो।

Share this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *